Jivanbhai Mayatraફેરફાર કરો

  • Neel kamal
  • जब तक करोड़ों लोग भूख और अज्ञान से पीड़ित हैं तब तक मैं हर उस व्यक्ति को देशद्रोही समझूंगा, जो उनके खर्च से शिक्षित बनकर उनके प्रति तनिक भी ध्यान नहीं देता__* -स्वामी विवेकानंद।
  • मेरा एक मात्र लक्ष्य सत्य का अनुसंधान करना है, सच्चे धर्म का पता लगाना है, और उन्हें उद्घाटित करना है।___ Akabar_the_great
           "દાસી દેહ ન સાચવે, 
            (પછી) ભગવો લિયે વેશ. 
            ઘર ઘર એવું ભાટકે, 
            વેણી છૂટ્યા કેશ."
               વગડાનો ગ્રામ પ્રવેશ